Struggle for Hindu Existence

*Hindu Rights to Survive with Dignity *Join us in Hindu Freedom Movement *Jayatu Jayatu Hindu Rashtram *Editor: Upananda Brahmachari

Shubh Nabratri Samapan & Dussera !! Jai Sri Ram !!!

Posted by hinduexistence on October 6, 2011

 आपणा सर्वाना विजया दशमीच्या हार्दिक शुभेच्छा….. !!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!­­!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!

आपको और पुरे परिवार को विजय दशमी मंगल कामनाएं.. जय श्री राम ! दुर्गा माई की जय ! हर हर महादेव ! भारत माता की जय !  वन्दे मातरम!! 

One Response to “Shubh Nabratri Samapan & Dussera !! Jai Sri Ram !!!”

  1. देश के अपराधियों का दहन कर विजयोल्लास मनाएँ इस विजयादशमी के अवसर पर !

    १. आज जगदम्बा जगतजननी दुर्गा द्वारा महिषासुर के मानमर्दन का दिवस है !
    २. आज मर्यादा पुरुषोतम, रघुकुलभूषण भगवान श्रीराम द्वारा लंकाधिपति रावण पर विजय प्राप्ति का दिवस है !
    ३. दुर्योधन-शकुनी के कुचक्र के परिणामस्वरूप बनवास भुगत चुके पांडवों के अज्ञातवास की समाप्ति का दिवस है यह !
    ४. ब्रह्मचारी कौत्स द्वारा उनके गुरु महाराज वरतन्तु ऋषि को महाराजा रघु से स्वर्णमुद्राएं प्राप्त कर गुरु दक्षिणा दिए जाने और बचे हुए धन का अवधपूरी की जनता में वितरण कर दिए जाने का दिवस है यह !
    विजय के इस उत्सव विजयादशमी को क्यों ना हम अपने राष्ट्रीय मुक्ति दिवस के रूप में मनाने का संकल्प लें ? आज हमारे सम्पूर्ण भारत वर्ष में व्याप्त लूट, भ्रष्टाचार, व्यभिचार, अनाचार, दुराचार, चोरी, बेईमानी की जन्मदात्री कौंग्रेस को रावण के पुतले के साथ ही जलाकर भष्म कर देने का संकल्प करें ?
    देश की १२१ करोड़ जनता को इनके कुचक्र से निकालकर १०११ वर्षों की परतंत्रता का समापन करें ? भारत की देवतुल्य जनता इन कॉंग्रेसी राक्षसों की धनलिप्सा एवम सत्तालिप्सा की अग्नि की दाहकता झेलती आ रही है पिछले ६४ वर्षों से ! अंग्रेजों के जाने के पश्चात भारत को इन नकली गांधियों ने अपनी खानदानी जागीर बना लिया है ! क्यों ना हम सब मिलकर इनके सफाए का संकल्प लें इस विजय पर्व के अवसर पर ?
    भारत की धरती हमारी है तो इसका उद्धार भी हमें ही करना होगा ! भारत की मुक्ति के लिए परकीयों की ओर निहारना कायरता और मुर्खता होगी ! मेरे भारत के तेजस्वी, ओजस्वी नौजवानों, बुद्धिजीवियों, बहादुरों कमर कसो, बलिदान करो ! भारत माता बलिदान माँगती है ! आगे बढ़ो ! इन देश के दुश्मनों, आस्तीन के सांप, नकली गांधियों को अग्नि के सुपुर्द कर दो !
    सोचने का समय गया ! उठो लिखो इतिहास नया !!
    वतन है पुकारता पुकारती माँ भारती ! खून से तिलक करो !! गोलियों से आरती !!
    विजयादशमी की कोटिशः शुभकामनाओं के साथ ” वन्दे मातरम ” , ”भारत माता की जय” !

    मुरारी शरण शुक्ला

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

 
Follow

Get every new post delivered to your Inbox.

Join 4,179 other followers

%d bloggers like this: